chessbase india logo

विश्व चैंपियनशिप : नए नियम से क्या नया विश्व चैम्पियन मिलेगा ?

by Niklesh Jain - 15/11/2021

फीडे विश्व शतरंज चैंपियनशिप के शुरू होने मे अब कुछ ही रोज का वक्त बचा है तो ऐसे मे हर शतरंज प्रेमी के मन मे और जुबान मे यही सवाल है की क्या मेगनस कार्लसन फिर से विश्व चैम्पियन बन जाएँगे या फिर रूस के इयान नेपोंनियची एक नया इतिहास रचेंगे ? खैर सबसे बड़ी बात यह है की पिछली चार विश्व चैंपियनशिप जो कार्लसन नें खेली और जीती उससे इतर इस बार टूर्नामेंट के फॉर्मेट और टाइम कंट्रोल मे बड़ा फेरबदल किया गया है । 2016 मे कार्याकिन के खिलाफ तो 2018 मे करूआना के खिलाफ टाईब्रेक में परिणाम आने की आलोचना के बाद इस बार फीडे नें राउंड की संख्या बढ़ाकर 12 से 14 कर दी है जबकि प्रति चाल 30 सेकंड बढ्ने के नियम में भी बड़ा बदलाव किया गया है । पढे यह लेख साथ ही यह भी बताए की आपको कौन अगला विश्व विजेता बनता नजर आता है ? 

विश्व शतरंज चैंपियनशिप – क्या मेगनस कार्लसन बचा पाएंगे अपना ताज

वर्ष 2013 में 23 वर्ष की आयु में भारत के तत्कालीन विश्व शतरंज चैम्पियन विश्वनाथन आनंद को हराकर विश्व खिताब जीतने वाले नॉर्वे के मेगनस कार्लसन नें अब तक अपना दबदबा शतरंज की दुनिया में कायम रखा है । 2014 में फिर से आनंद ,2016 में सेरगी कार्याकिन और 2018 में फबियानों करूआना को हराकर वह चार बार विश्व चैम्पियन बन चुके है ।

2020 में कोरोना के चलते विश्व चैंपियनशिप नहीं हो पायी थी और अब 2021 में 26 नवंबर से 16 दिसंबर तक दुबई एक्स्पो में होने जा रही है,

फीडे कैंडीडेट जीतकर रूस के इयान नेपोंनियची कार्लसन के ताज को चुनौती देने के लिए उतरेंगे । फीडे नें इस बार फॉर्मेट में कुछ खास बदलाव कर दिये है जिसके चलते प्रतियोगिता और रोचक हो जाने की उम्मीद है सबसे बड़ा बदलाव यह है की इस बार 12 की 14 राउंड खेले जाएँगे ,मतलब सबसे पहले 7.5 अंक बनाने वाला खिलाड़ी विजेता घोषित कर दिया जाएगा ।

दूसरा बदलाव समय को लेकर हुआ है इस बार दोनों खिलाड़ियों को पहली 40 चाले चलने के लिए 120 मिनट दिये जाएँगे जबकि उसके बाद अगली चाल चलने के लिए 60 मिनट और दिये जाएँगेबदलाव यह है की इस बार इसमें प्रति चाल 30 सेकंड का अतिरिक्त समय सिर्फ 60 चाल के बाद ही जुड़ेगा ,60 चाले होने के बाद 15 मिनट और 30 सेकंड का प्रति चाल अतिरिक्त समय मिलेगा ।

2013 मे चेन्नई मे भारत के विश्वनाथन आनंद को हराकर कार्लसन पहली बार विश्व चैम्पियन बने थे और 2014 में रूस के सोची में फिर से आनंद को हराकर उन्होने अपने खिताब की रक्षा भी की 

2016 में कार्याकिन तो 

2018 में करूआना को मात देकर कार्लसन लगातार चौंथी बार विश्व चैम्पियन बने थे 

 

टाईब्रेक –

अगर 14 क्लासिक मैच के बाद भी स्कोर 7-7 से बराबर रहा तो फिर पहले 25+10 मिनट के चाल रैपिड से परिणाम निकाला जाएगा इस पर भी मैच ड्रॉ रहने पर 3+2 मिनट के 2 ब्लिट्ज़ मिनी मैच खेले जाएँगे और यह मिनी मैच अधिकतम पाँच होंगे इस दौरान अगर कोई जीत गया तो वही विजेता होगा और इसके बाद भी परिणाम ना आने पर एक सड्न डैथ ( अरमागोदेन ) खेलकर परिणाम निकाला जाएगा ।

26 दिसंबर को पहला तो 14 दिसंबर को 14वां क्लासिक मैच खेला जाएगा 

प्रतियोगिता का सीधा प्रसारण हिन्दी चेसबेस इंडिया यूट्यूब चैनल पर किया जाएगा 


Related news:
Dubai 2020 World School: Velammal Nexus tops Group A

@ 27/11/2021 by Shahid Ahmed (en)