chessbase india logo

ChessBase 17 and Mega 2024 are here

ChessBase 17 is an all-new program that helps you manage all your databases as an ambitious player. Mega Database 2024 has 10.4 million games with over 112,000 games annotated by masters. The cost of ChessBase 17 is Rs.4199/- and the cost of Mega Database 2024 is Rs.5999/- However, if you go for the combo the total amount comes to Rs.8999/- helping you save Rs. 1198/-.

यूनिकॉर्न फीडे रेटिंग आरंभ : वरीयता प्राप्त खिलाड़ियों की जीत से शुरुआत

14/07/2024 -

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में 13 जुलाई शनिवार से प्रथम यूनिकॉर्न फीडे रेटिंग टूर्नामेंट का शुभारंभ हो गया , दस लाख पुरुस्कार राशि वाली इस प्रतियोगिता में देश भर से और 271 खिलाड़ी खेलने के लिए भोपाल पहुंचे है । इस प्रतियोगिता में इंग्लैंड और यूएसए से भी एक एक भारतीय मूल के खिलाड़ी भाग ले रहे है । पांडिचेरी के प्रथम इंटरनेशनल मास्टर एल श्रीहरी प्रतियोगिता के टॉप सीड है जबकि दो और इंटरनेशनल मास्टर एलआईसी के दिनेश शर्मा और महाराष्ट्र के विक्रमादित्य कांबले भी भाग ले रहे है । केरल के नितिन बाबू को दूसरी वरीयता मिली है । दो राउंड के बाद अधिकतर वरीयता प्राप्त खिलाड़ियों नें जीत के साथ अपना अभियान आरंभ किया है । इससे पहले प्रतियोगिता का उदघाटन मध्य प्रदेश के खेल मंत्री विश्वास सारंग और अखिल भारतीय शतरंज महासंघ के अध्यक्ष  नितिन नारंग की मौजूदगी में सम्पन्न हुआ । पढे यह लेख , तस्वीरे - आयुष जैन / चैसबेस इंडिया 

सुपर यूनाइटेड रैपिड : करूआना रहे शीर्ष पर

13/07/2024 -

सुपरयूनाइटेड रैपिड शतरंज में तीनों दिन के खेल के बाद यूएसए के विश्व नंबर 3 फबियानों करूआना नें अपने बेहतरीन प्रदर्शन को बरकरार रखते हुए कुल 15 अंको के साथ पहला स्थान हासिल किया है , इससे पहले रोमानिया क्लासिक का खिताब अपने नाम करने वाले फबियानों इस समय जोरदार लय में नजर आ रहे है । तीसरे दिन करूआना नें अपने तीनों मुकाबलों में जीत दर्ज  करते हुए किसी को कोई मौका ना देते हुए रैपिड में  पहला स्थान हासिल किया , उन्होने दिन की शुरुआत भारत के डी गुकेश को मात देकर की और उसके बाद उन्होने नीदरलैंड के अनीश गिरि और फ्रांस के मकसीम लागरेव को पराजित किया । अब देखना यह होगा की क्या ब्लिट्ज शतरंज में भी वह अपना यह प्रदर्शन बरकरार रखते हुए एक और खिताब अपने नाम करेंगे । भारत के डी गुकेश रैपिड में 9 अंक बनाकर सातवें और विदित 4 अंक बनाकर नौवे स्थान पर रहे । पढे यह लेख Photo : Lennart Ootes/ Grand Chess Tour 

सुपर यूनाइटेड रैपिड : मकसीम नें बनाई बढ़त , गुकेश -विदित की धीमी शुरुआत

11/07/2024 -

ग्रांड चैस टूर के तीसरे पड़ाव सुपर यूनाइटेड रैपिड और ब्लिट्ज़ शतरंज के मुक़ाबले अब शुरू हो चुके है और पहले दिन के रैपिड के खेल के बाद फ्रांस के मकसीम लागरेव नें दो जीत और एक ड्रॉ के साथ 5 अंक बनाते हुए एकल बढ़त कायम कर ली है , पिछले कुछ सालो से अपनी लय तलाश रहे मकसीम के लिए यह टूर्नामेंट खास साबित हो सकता है , भारतीय खिलाड़ियों में डी गुकेश और विदित के लिए पहला दिन अच्छा नहीं बीता दोनों को ही पहले राउंड में हार का सामना करना पड़ा जबकि एक समय दोनों के मुक़ाबले ड्रॉ का परिणाम हासिल कर सकते थे , हालांकि इसके बाद जहाँ गुकेश नें अपनी दोनों बाज़ियाँ ड्रॉ खेली तो विदित को दिन के तीनों मुकाबलों में हार का सामना करना पड़ा । फिलहाल यूएसए के फबियानों करूआना और वेसली सो 4 अंक बनाकर दूसरे स्थान पर चल रहे है । दूसरे दिन अब गुकेश का सामना मकसीम , विदित और नेपोमनिशि से होगा जबकि विदित वेसली और अनीश के साथ भी खेलेंगे । पहले तीन दिन रैपिड के बाद अगले दो दिन ब्लिट्ज़ के मुक़ाबले खेले जाएँगे ।

Photo : Lennart Ootes/ Grand Chess Tour 

आनंद नें 9 में से 9 अंक बनाकर जीता केंजा ब्लिट्ज़

09/07/2024 -

विश्वनाथन आनंद नें अपने खेल जीवन में अनगिनत उपलब्धियां हासिल की है , आज भारतीय शतरंज जहां खड़ा है उसमें सबसे ज्यादा अगर किसी का योगदान है तो वह विश्वनाथन आनंद ही है , उम्र के 55 वें पड़ाव पर भी आनंद नें शतरंज खेलना भले ही कम कर दिया है पर वह आज भी खेल से दूर नहीं हुए है और समय समय पर वह क्लासिकल , रैपिड और ब्लिट्ज़ हर जगह अपनी उपस्थिती दर्ज करते रहते है , कुछ दिन पहले ही उन्होने स्पेन में रिकॉर्ड दसवीं बार लियॉन मास्टर्स शतरंज का खिताब अपने नाम किया था और अब उन्होने फ्रांस के कोर्सिका में सम्पन्न हुआ केंजा ब्लिट्ज़ का खिताब जीता है , बड़ी बात यह है की उन्होने यह खिताब 9 राउंड में 9 अंक बनाते हुए अपने नाम किया है जो कभी भी किसी भी टूर्नामेंट के लिए एक असाधारण परिणाम होता है , इस दौरान आनंद नें कई युवा और मजबूत ग्रांड मास्टरों को एकतरफा अंदाज में पराजित किया । पढे यह लेख ।  Photo: Ligue Corse d'Echecs

दुखद खबर : शतरंज खेलते हुए शतरंज खेलते समय ग्रांड मास्टर ज़ियाउर रहमान का निधन

05/07/2024 -

विश्व शतरंज और खासतौर पर एशियन शतरंज के लिए एक दुखद खबर अब से थोड़ी देर पहले सामने आई है , बांग्लादेश के शीर्ष ग्रांड मास्टरो में से एक ग्रांड मास्टर जियाउर रहमान का 50 वर्ष की उम्र में अब से कुछ देर पहले आसामयिक निधन हो गया है , दरअसल बांग्लादेश राष्ट्रीय चैंपियनशिप में 12वें राउंड का मुक़ाबला खलते हुए वह हृदयघात आने के कारण अपनी  कुर्सी से नीचे गिर गए , आनन - फानन में उन्हे अस्पताल ले जाया गया गया पर डॉक्टर नें उन्हे मृत घोषित कर दिया , रहमान लंबे समय तक एशियन और बांग्लादेश शतरंज के प्रमुख खिलाड़ियों में से एक रहे और उन्होने कई भारतीय शतरंज खिलाड़ियों को प्रशिक्षित भी किया , वह अक्सर भारत टूर्नामेंट खेलने अपने परिवार के साथ आते थे , उन्होने बांग्लादेश के लिए रिकॉर्ड 15 शतरंज ओलंपियाड खेले , दुनिया भर की शतरंज हस्तियों नें उनके निधन पर शोक व्यक्त किया है , चेसबेस इंडिया भी उनके निधन पर शोक व्यक्त करते हुए उनके परिवार और चाहने वालों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त करता है । पढ़े यह लेख 

आनंद नें रिकॉर्ड 10वीं बार जीता लियॉन मास्टर्स

01/07/2024 -

भारत के पाँच बार के विश्व चैम्पियन विश्वनाथन आनंद नें एक बार फिर दिखा दिया की उनके लिए अभी भी उम्र सिर्फ एक नंबर है , आनंद नें स्पेन के प्रतिष्ठित लियॉन मास्टर्स शतरंज का खिताब रिकॉर्ड दसवीं बार अपने नाम कर लिया है , रैपिड फॉर्मेट के बेस्ट ऑफ 4 की तर्ज पर खेले गए फाइनल मुक़ाबले में आनंद नें मेजबान देश के संटोस जेमे को एकतरफा मुक़ाबले में 3-1 से पराजित करते शानदार अंदाज में यह खिताब अपने नाम किया , इससे पहले आनंद नें टोपालोव को और जेमे नें भारत के अर्जुन एरीगैसी को पराजित करते हुए फाइनल में जगह बनाई थी । लियॉन मास्टर्स का यह 37वां संस्करण था और आनंद 16वीं बार इसमें भाग ले रहे थे , आनंद नें इससे पहले 1996,1999, 2000, 2001, 2005,2006,2007, 2011और 2016 में यह खिताब अपने नाम किया था , पढे यह लेख 

सिंगापुर में होगी गुकेश - डिंग की विश्व चैंपियनशिप

01/07/2024 -

चैस फेडरेशन, सिंगापुर सरकार के समर्थन से, 2024 फीडे विश्व शतरंज चैंपियनशिप मैच की मेजबानी के लिए चयनित हुआ है। यह मैच वर्तमान चैम्पियन चीन के डिंग लीरेन और चैलेंजर भारत के गुकेश डी के बीच 20 नवंबर से 15 दिसंबर 2024 के बीच आयोजित होगा। फीडे को इस चैंपियनशिप मेजबानी के नई दिल्ली और चेन्नई (भारत) और सिंगापुर से कुल तीन आवेदन मिले थे । सभी संभावित मेजबान शहरों की स्थल, सुविधाओं, कार्यक्रम और अवसरों की समीक्षा के बाद, अंतर्राष्ट्रीय शतरंज संघ फीडे ने सिंगापुर को इस विश्व चैंपियनशिप मैच की मेजबानी के लिए चुना है। यह मैच 14 राउंड का होगा, और जो खिलाड़ी 7.5 या उससे अधिक अंक प्राप्त करेगा, वह विजेता होगा। यदि 14 खेलों के बाद स्कोर बराबर रहता है, तो विजेता का निर्णय टाईब्रेक के माध्यम से होगा। पढे यह लेख 

13 साल के रेयान बने बिहार के सीनियर शतरंज चैम्पियन

30/06/2024 -

बिहार भारत के उन  राज्यों में से एक है जो आज भी शतरंज के पिछड़े राज्यों में गिना जाता है , आज भी यह प्रदेश अपने पहले इंटरनेशनल मास्टर का इंतजार कर रहा है । हालांकि पिछले कुछ सालों से इस राज्य में शतरंज की बढ़ती हुई गतिविधियों नें अपना असर दिखाना शुरू कर दिया है और इसकी ताजा मिशाल यह है की बिहार राज्य सीनियर शतरंज का खिताब पटना के 13 साल के रेयान मोहम्म्द नें अपने नाम कर लिया है , वही राज्य की महिला सीनियर शतरंज चैम्पियन का खिताब अपने नाम रखने वाली 18 वर्षीय मरियम फातिमा नें राज्य सीनियर में पाँचवाँ स्थान हासिल किया है ।  लखीसराय में सम्पन्न हुई इस प्रतियोगिता में कुल 91 खिलाड़ियों नें भाग लिया जिसमें नौ राउंड के बाद रेयान नें नौ में से नौ अंक बनाकर एक नया इतिहास बनाते हुए पहला स्थान हासिल किया जबकि विजय कुमार , किशन कुमार और दिव्यान्शु कुमार सिंह नें क्रमशः दूसरे से चौंथा स्थान हासिल करते हुए सीनियर नेशनल के लिए अपना स्थान सुनिशित कर लिया है । हिन्दी चेसबेस इंडिया के लिए बिहार से शाहिद हुसैन नें यह लेख लिखा है ।  फोटो - अखिल बिहार शतरंज संघ और लखीसराय जिला शतरंज संघ

सुपरबेट चैस क्लासिक : प्रज्ञानन्दा नें अनीश को हराया

30/06/2024 -

सुपरबेट रोमानिया क्लासिक शतरंज के चौंथे राउंड में भारत के आर प्रज्ञानन्दा नें नीदरलैंड के नंबर एक खिलाड़ी अनीश गिरि को एक बेहतरीन मुक़ाबले में पराजित करते हुए टूर्नामेंट में अपनी पहली जीत दर्ज की और इसके साथ ही निकट समय में लगातार दुनिया के शीर्ष खिलाड़ियों के खिलाफ अपने जीत दर्ज करने के क्रम को उन्होने बनाए रखा है । वैसे तो प्रज्ञानन्दा अनीश के खिलाफ खेल के मध्य में ही बेहतर स्थिति में आ गए थे पर खेल में आई जटिलताओं के चलते उन्हे यह बाजी जीतने में उन्हे 80 चालों का इंतजार करना पड़ा , बड़ी बात यह है की इस जीत के चलते अब प्रज्ञानन्दा 2762 अंको के साथ लाइव रेटिंग में आठवे स्थान पर पहुँच गए है , दिन की दूसरी जीत दर्ज की फबियानों करूआना नें उन्होने रोमानिया के बोगदान डेनियल को मात देते हुए अपनी दूसरी जीत दर्ज करते हुए एकल बढ़त बना ली है साथ ही एक बार फिर से 2800 रेटिंग को पार करते हुए वह दुनिया के नंबर 2 खिलाड़ी बन गए है । भारत के डी गुकेश नें फ्रांस के अलीरेजा से ड्रॉ खेला । चौंथे राउंड के अन्य दो मुक़ाबले भी ड्रॉ रहे । पढे यह लेख Photo :  Lennart Ootes  / Grand Chess Tour 

सुपरबेट चैस क्लासिक : गुकेश के खिलाफ जीत से चूके प्रज्ञानन्दा

29/06/2024 -

ग्रांड चैस टूर के दूसरे पड़ाव सुपरबेट रोमानिया क्लासिक शतरंज के तीसरे राउंड में भारतीय नजरिए से बेहद खास मुक़ाबला हुआ जब भारत के डी गुकेश का सफ़ेद मोहरो से सामना हुआ भारत के ही आर प्रज्ञानन्दा से , दोनों के बीच पिछले कई क्लासिकल मुकाबलों में गुकेश का पडला काफी समय से भारी रहा है और ऐसे में दबाव प्रज्ञानन्दा पर था , ओपनिंग और मिडिल खेल तो बराबरी पर था पर प्रज्ञानन्दा नें एंडगेम में गुकेश से गलती कराते हुए जीत लगभग अपनी मुट्ठी में कर ली थी पर प्यादो के एंडगेम में उनसे भी गलती हुई और मुक़ाबला अंततः बेनतीजा रहा । तीसरे राउंड के सभी मुक़ाबले बेनतीजा रहे और फिलहाल गुकेश और फबियानों करूआना 2 अंक बनाकर सयुंक्त बढ़त पर चल रहे है । पढे यह लेख 

सुपरबेट चैस क्लासिक : गुकेश सयुंक्त बढ़त पर

28/06/2024 -

ग्रांड चैस टूर के दूसरे पड़ाव सुपरबेट रोमानिया चैस क्लासिक शतरंज के दो राउंड के बाद भारत के डी गुकेश और यूएसए के फबियानों करूआना नें एक जीत और एक ड्रॉ के साथ शुरुआती सयुंक्त हासिल कर ली है । गुकेश नें पहले दिन रोमानिया के बोगदान डेनियल को तो करूआना नें फ्रांस के अलीरेजा फिरौजा को मात देते हुए अपने अभियान की शुरुआत की थी , दूसरे दिन दोनों नें क्रमशः रूस के यान नेपोमनिशी और यूएसए के वेसली से बाजी ड्रॉ खेली , दूसरे दिन फ्रांस के अलीरेजा फिरौजा नें एकमात्र जीत दर्ज करते हुए उज़्बेक्सितान के अब्दुसत्तोरोव नोदिरबेक को पराजित किया । भारत के प्रज्ञानन्दा नें अपने पहले दोनों मुक़ाबले ड्रॉ खेले है । दो दिन में हुए कुल 10 मुकाबलों में 7 बेनतीजा रहे है । 9 राउंड का यह राउंड रॉबिन आधार पर खेला जा रहा टूर्नामेंट 5 जुलाई तक खेला जाएगा । पढे यह लेख । Photo :  Lennart Ootes  / Grand Chess Tour 

आय व्यय विवरण : खेलो चैस इंडिया क्लासिकल फीडे रेटिंग

27/06/2024 -

दोस्तो हिन्दी चेसबेस इंडिया के सदस्यों की खास मदद के चलते हमने खेलो चैस इंडिया मुहिम को हमने आगे बढ़ाते हुए पहली बार एक इंटरनेशनल क्लासिक रेटिंग टूर्नामेंट का आयोजन भोपाल में सफलता पूर्वक सम्पन्न कर लिया है । इस टूर्नामेंट को करते समय हमारे मन में एक ही बात थी की हमें एक विश्व स्तरीय टूर्नामेंट आयोजित करना है इसे समाज के हर वर्ग तक पहुँचना है ओर इसी बात को ध्यान रखते हुए हमने इस टूर्नामेंट को छह दिवसीय रखा ताकि खिलाड़ियों को मैच के बीच में आराम मिल सके । साथ ही इसका प्रवेश शुल्क सिर्फ 600 रुपेय रखा गया । इसके सामाजिक संदेश के चलते विश्व शतरंज संघ नें इसे प्रतिष्ठित फीडे 100 श्रंखला का हिस्सा भी बनाया और इस मामले में यह देश का पहला ऐसा टूर्नामेंट बन गया । दोस्तो किसी भी ऐसे आयोजन में जो सामूहिक योगदान से आयोजित किया गया उसके आय व्यय का विवरण  सामने रखना भी हम आवश्यक मानते है , तो पढे पूरा लेख ।  

आपको मिलेगा विश्व रिकॉर्ड बनाने का मौका , खेलो चैस इंडिया फीडे ब्लिट्ज़ शतरंज 20 जुलाई को

25/06/2024 -

दोस्तो अगर आप भी गिनीज़ बुक्स ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड का हिस्सा बनना चाहते  है आपके पास एक सुनहरा मौका है ।जब आगामी 20 जुलाई को जब विश्व शतरंज संघ अपनी 100वीं वर्षगांठ मना रहा होगा तब फीडे दुनिया भर के आयोजको के साथ विश्व शतरंज दिवस के दिन अधिकृत तौर पर विश्व रिकॉर्ड बनाने का प्रयास करेगा ।  और आप 20 जुलाई शाम 5 बजे से 9 बजे तक आप भोपाल में होने वाले खेलो चैस इंडिया फीडे ब्लिट्ज़ रेटिंग टूर्नामेंट के माध्यम से इस खास प्रयास का हिस्सा बन सकते है । दरअसल 20 जुलाई को भोपाल में होने वाला यह टूर्नामेंट दुनिया भर में फीडे द्वारा आयोजित श्रंखला का हिस्सा होगा । खेलो चैस इंडिया क्लासिकल फीडे रेटिंग टूर्नामेंट की सफलता के बाद यह हमारा दूसरा फीडे रेटिंग टूर्नामेंट होगा । यह टूर्नामेंट ना सिर्फ चेसबेस इंडिया हिन्दी बल्कि फीडे के चैनल पर भी कई मर्तबा सीधा प्रसारित होगा । इस टूर्नामेंट का प्रवेश शुल्क सिर्फ 250 रुपेय रखा गया है और जानकारी के लिए पढे यह लेख 

कैंडिडैट से चूकने पर हुई थी गहरी निराशा :अर्जुन एरीगैसी

22/06/2024 -

वैसे तो इस साल हुए फीडे कैंडिडैट में तीन भारतीय खिलाड़ियों का चयनित होना अपने आप में एक बड़ी घटना थी पर हर किसी के मन में एक दुख जरूर था की अर्जुन एरीगैसी भी कैंडिडैट के कई बार नजदीक पहुँच कर भी इसमें जगह नहीं बना पाये थे , खैर अर्जुन  नें इस असफलता से खुद को कुछ यूं प्रेरित किया की आज अर्जुन देश के नंबर एक और वर्तमान में दुनिया के चार नंबर के खिलाड़ी बन गए है । अर्जुन नें चेसबेस इंडिया हिन्दी प्रमुख निकलेश जैन से एक खास बातचीत की । अर्जुन एरिगैसी ने फीडे कैंडिडेट्स से चूकने और भविष्य के लक्ष्यों पर चर्चा की, इस विशेष साक्षात्कार में भारत के उभरते हुए शतरंज सितारे अर्जुन एरिगैसी ने हालिया प्रदर्शन, भविष्य के लक्ष्य और आगामी टूर्नामेंट्स के बारे में चर्चा की। वर्तमान में विश्व रैंकिंग में चौथे स्थान पर काबिज एरिगैसी ने अपनी शतरंज यात्रा की चुनौतियों और सफलताओं के बारे में खुलकर बात की, जिसमें फीडे कैंडिडेट्स के लिए क्वालीफाई न कर पाने की निराशा और एक दिन विश्व चैंपियन बनने की उनकी महत्वाकांक्षाएँ शामिल हैं। पढे पूरा साक्षात्कार

Contact Us