chessbase india logo

प्राग मास्टर्स 2019 - विदित गुजराती बने उपविजेता

by नितेश श्रीवास्तव - 17/03/2019

प्राग मास्टर्स इंटरनेशनल शतरंज चैंपियनशिप में अंतिम और निर्णायक राउंड में भारतीय युवा ग्रांड मास्टर विदित गुजराती नें प्रतियोगिता के टॉप सीड मेजबान चेक गणराज्य के शीर्ष खिलाड़ी डेविड नवारा को पराजित करते हुए प्रतियोगिता का समापन जीत के साथ उपविजेता रहते हुए किया । काले मोहरो से खेलते हुए विदित नें क्यूजीडी ओपेनिंग में शुरुआत से ही अपने मोहरो की सक्रियता से परेशान करके रखा और 57 चालों में जीत दर्ज की । इस जीत के साथ भारत का यह युवा सितारा अपनी रेटिंग में लगभग 5 अंको की बढ़त लेकर 2715 अंको पर जा पहुंचा है । कुछ माह पहले ही 2700 क्लब से बाहर हो गए विदित नें टाटा स्टील और प्राग में अपने बेहतरीन प्रदर्शन से एक बार फिर सही राह पकड़ ली है । प्रतियोगिता में जहां अंतिम राउंड की जीत नें विदित को सीधे दूसरे स्थान पर पहुंचाया तो अंतिम राउंड में अनुभवी बोरिस गेल्फ़ांद से हारकर पेंटाला हरीकृष्णा सातवे स्थान पर रहे । पढे यह लेख 

 

विदित एक बार फिर अपने उस सफर पर निकाल पड़े जिसमें  | Photo: Vladimir Jagr

 (चेक गणराज्य)। विश्व के दस बेहतरीन खिलाड़ियों के बीच प्राग में छह मार्च से 15 मार्च के बीच शुरू हुए प्राग इंटरनेशनल शतरंज मास्टर्स वर्ग का खिताब प्रतियोगिता के छठवीं वरियता प्राप्त रुस के निकिता वितुगोव (2726) के सिर सजा। यह उपलब्धि उन्हें नौवे राउण्ड में दूसरी वरियता प्राप्त हंगरी के रिचर्ड रापोर्ट (2738) के साथ हुए एक कड़े मुकाबले में ड्रा करने पर हासिल हुआ। ओल्ड सिसीलियन वैरियेशन पर खेला गया यह मैच 31चालों तक चला। निकिता वितुगोव ने इस प्रतियोगिता में 5‐5 अंक बनाए। इस प्रतियोगिता में आठवीं वरियता प्राप्त भारत के विदित गुजराती (2711) ने 5 अंक अर्जित कर भारतीय शतरंज प्रे्रमियों का सिर उस समय गर्व के उंचा कर दिया जब उन्होंने बेहतर टाईब्रेक के आधार पर उपविजेता बनने का गौरव प्राप्त किया। उन्होंने आखिरी राउण्ड के मैच में काले मोहरों से खेलते हुए प्रतियोगिता के टाॅप सीडेड खिलाड़ी मेजबान चेक रिपब्लिक के डेविड नवारा (2739) को चैकाते हुए अपने मोहरों के शानदार तालमेल से 57 चालों में हार स्वीकार करने पर मजबूर कर दिया। दोनों खिलाड़ियों के बीच क्वीन गैम्बिट डिक्लाइन वैरियेशन पर मैच खेला गया।

देखे कैसी रही विदित की ये जीत फीडे इंस्ट्रक्टर निकलेश जैन का हिन्दी विश्लेषण

विदित इस टूर्नामेण्ट मेंअपनी रेटिंग में महत्वपूर्ण 5.7 अंक जोड़ने में कामयाब रहे और 2715 अपर पहुँच गए 

विदित इस टूर्नामेण्ट में महज आधे अंक की कमी से विजेता बनने से चूक गए। उनका विजेता न बनने का एकमात्र कारण रहा चैथे चक्र में प्रतियोगिता के तीसरी वरियता प्राप्त अमेरिका के सेम शंकलंद (2731) के हाथों पराजित होना। यह हार प्रतियोगिता में उनकी एकमात्र हार भी रही। 

 

हरीकृष्णा नें वैसे तो पूरा टूर्नामेंट अच्छा खेला पर अंतिम राउंड में अनुभवी बोरिस गेल्फ़ांद के हाथो पराजय नें उन्हे अंक तालिका में सातवे स्थान पर पहुंचा दिया | Phtoto: Macauley Peterson

तीसरे स्थान पर 5 अंक बनाकर रहे सातवीं वरियता प्राप्त पोलैंड के राडास्लाव वोज्टस्जेक रहे। चैथे स्थान पर सभी को चैकाते हुए पूर्व विश्व चैम्पियन चैलेंजर और प्रतियोगिता के सबसे अनुभवी खिलाड़ी बोरिस गेल्फांद (2655) रहे। उन्होंने आखिरी राउण्ड के मैच में भारत के स्टार खिलाड़ी सुपर ग्रांडमास्टर पी हरिकृष्णा (2730) को सफेद मोहरों से एंटी निमजो इंडियन डिफेंस से मात्र 24 चालों में हराकर प्रतियोगिता का बड़ा उलटफेर कर दिया। पांचवे स्थान पर तीसरी वरियता खिलाड़ी पौलेंड के जे जाॅन डूडा (2731) रहे। इन्होंने भी पांच अंक अर्जित किए। छठवें स्थान पर रहे 4‐5 अंक बनाकर चैथी वरियता प्राप्त खिलाड़ी अमेरिका के सेम शंकलंद (2731)। सातवें स्थान पर पांचवी वरियता प्राप्त खिलाड़ी भारत के पी हरिकृष्णा रहे। वह प्रतियोगिता में मात्र 4 अंक ही बना सके। इस प्रतियोगिता में हरिकृष्णा अपने प्रदर्शन से जरूर निराश होंगे। क्योंकि वह शतरंज की बिसात पर जिस तरह का खेल खेलने के लिए जाने जाते है। वह खेल इस प्रतियोगिता में उनका नहीं दिखा। बोरिस गेल्फांद के हाथों आखिरी राउण्ड के मैच में मिली शिकस्त ने उन्हें प्रतियोगिता के टाॅप थ्री से बाहर कर दिया। आठवें स्थान पर रहे प्रतियोगिता के टाॅप सीडेड मेजबान देश के डेविड नवारा (2739) वह मात्र 4 अंक ही बना सके। आखिरी राउण्ड में भारत के विदित से मिली हार ने इनका बड़ा नुकसान किया। नौवें स्थान पर दूसरे सीटेड हंगरी के रिचर्ड रापोर्ट (2738) चार प्वाइंट बनाकर रहे। दसवें स्थान पर तीन अंक बनाकर कर नौवीं वरियता प्राप्त चेक गणराज्य के विक्टर लजनिका (2670) रहे। 

5.5/9 अंको के साथ निकिता वितुगोव साथ इस बेहद मजबूत टूर्नामेंट जीत लिया | Phtoto: praguechessfestival

फ़ाइनल रैंकिंग मास्टर्स 

Rk.SNo NameFEDRtgPts. TB1  TB2  TB3 
18
GMVitiugov NikitaRUS27265,50,024,255
210
GMVidit Santosh GujrathiIND27115,02,022,255
31
GMWojtaszek RadoslawPOL27225,01,522,004
49
GMDuda Jan-KrzysztofPOL27315,01,520,755
56
GMGelfand BorisISR26555,01,021,755
67
GMShankland SamuelUSA27314,50,020,255
74
GMHarikrishna PentalaIND27304,01,017,754
82
GMRapport RichardHUN27384,01,017,004
5
GMNavara DavidCZE27394,01,017,004
103
GMLaznicka ViktorCZE26703,00,014,504

 

 

देखे विदित क्या कहते है इस खेल के बारे में उन्ही से   his website.

चैलेंजर वर्ग :

स्पेन के डेविड अंटोन इस बार चैलेंजर वर्ग के विजेता बने और अगले बार के मास्टर्स के लिए जगह बनाने में सफल रहे  | Photo: Vladimir Jagr

प्रतियोगिता में जु वेंजून और अलेक्सी शिरोव को पराजित करके सुर्खियां लेने वाले प्रग्गा अंतिम तीन  राउंड में सिर्फ आधा अंक बना सके और  आठवे स्थान पर रहे   | Phtoto: Macauley Peterson

रेटिंग से ज्यादा उनके खाते में इस बार बहुमूल्य अनुभव आया 

देखे कैसे प्रग्गा नें विश्व चैम्पियन जु वेंजून को पराजित किया 

फीडे इंस्ट्रक्टर निकलेश जैन का हिन्दी विश्लेषण - सबस्क्राइब करे चेसबेस इंडिया हिन्दी यूट्यूब चैनल 

कैसे महान शिरोव को दिया प्रग्गा 

फीडे इंस्ट्रक्टर निकलेश जैन का हिन्दी विश्लेषण - सबस्क्राइब करे चेसबेस इंडिया हिन्दी यूट्यूब चैनल

चैलेंजर वर्ग के सभी प्रतिभागी  | Photo: Vladimir Jagr

फ़ाइनल रैंकिंग चैलेंजर वर्ग 

Rk.SNo NameFEDRtgPts. TB1  TB2  TB3 
17GMAnton Guijarro DavidESP26436,00,024,505
25GMKrejci JanCZE25705,50,022,504
310GMJu WenjunCHN25805,01,022,505
46GMMichalik PeterCZE25655,00,023,255
59GMStocek JiriCZE25924,51,019,255
64GMShirov AlexeiESP26674,50,018,754
71GMNguyen Thai Dai VanCZE25464,01,516,754
83GMPraggnanandhaa RIND25324,01,018,754
92GMParavyan DavidRUS26274,00,516,754
108GMBartel MateuszPOL26002,50,011,005