chessbase india logo

बातुमि ओलंपियाड R 2 : टाइगर की दहाड़ , भारत जीता

by Niklesh Jain - 26/09/2018

बातुमि शतरंज ओलंपियाड की शुरुआत भारत के लिए ठीक वैसी ही हुई है जैसी की जरूरत थी । राउंड 2 तब बेहद खास बन गया जब 5 बार के विश्व शतरंज चैम्पियन विश्वानाथन आनंद नें 12 साल बाद टीम मे वापसी करते हुए ओलंपियाड मे एक दशक बाद अपना पहला मैच ना सिर्फ खेला बल्कि एक शानदार जीत के साथ अपने अभियान का आगाज किया । साथ ही आनंद नें बता दिया की यह ओलंपियाड में वह कुछ खास ही करने आए है उनकी जीत नें ना सिर्फ उनकी बल्कि पूरी भारतीय टीम में एक जोश भर दिया है । औस्ट्रिया के खिलाफ विदित और हरिकृष्णा नें अपने मैच जीते तो भास्करन अधिबन नें ड्रॉ खेलते हुए भारत के खाते में 3.5-0.5 से जीत तय कर दी । महिला वर्ग में तो आज और बेहतर खेल नजर आया और हम्पी के विश्राम के चलते टीम में लौटी हरिका के नेत्तृत्व में टीम नें 4-0 की एकतरफा जीत वेनेजुएला पर दर्ज की । आने वाला हर मैच अब कडा होता जाएगा और देखना होगा की टीम कैसे अपनी रणनीति पर काम करती है । 

पुरुष वर्ग - भारत नें औस्ट्रिया को 3.5-0.5 से हराया !

देखे आखिर कैसे थे मैच के शुरुआती क्षण 

भारत के लिए यह जीत जिस तरह से आई यह भारत का आत्मविश्वास बढ़ाने वाली साबित होगी । और इस लिहाज से की अभी प्रतियोगिता शौरी हुई है और आगे काफी लंबा सफर तय करना है यह भारत के लिए बेहद अहम साबित होगी । खैर आनंद की जीत नें तो जैसे टीम में एक नया  जोश भर दिया है । कोच रमेश जिन्होने बिना आनंद के भी भारत को पदक दिलाये है तो ऐसे में जब उनके पास अब तक की सबसे बेहतर टीम है अच्छे प्रदर्शन का दबाव उन पर होगा । 

विदित नें टीम के लिए लगातार दूसरा मैच जीता और बता दिया की वो अपना बेहतरीन देने के लिए उत्सुक है  | Photo: Niklesh Jain
सुने मैच के बाद विदित नें क्या कहा चेसबेस इंडिया से 

विदित की जीत सबसे पहले आई और उसके बाद तो जैसे आनंद और हरिकृष्णा के बोर्ड पर भी इसका प्रभाव दिखा । टीमखेल में यह एक सबसे सामान्य घटना है जहां पहले जीत दर्ज करने वाली टीम को मनोवैज्ञानिक बढ़त मिल जाती है । 

12 साल बाद टीम में वापस लौटते हुए आनंद नें टीम को जीत का तोहफा दिया    | Photo: Niklesh Jain

आनंद की टीम में वापसी से यह तो यह हो गया था की वो औस्ट्रिया के नंबर एक खिलाड़ी रोजर मारकुस से मुक़ाबला खेलेंगे और आनंद की इस जीत के कई मायने भी है । इतिहास गवाह है जब भी आनंद नें प्रतियोगिता की शुरुआत जीत से की है उनके प्रदर्शन में निरंतरता रही है है साथ ही उनके मैच का स्तर भी लगातार बेहतर हो जाता है और अगर यह सब फिर से हुआ तो यकीन मानिए भारत इस ओलंपियाड में अपना सार्वकालिक बेहतर प्रदर्शन करने जा रहा है । 

ग्रांड मास्टर सूर्या शेखर गांगुली के द्वारा मैच का विश्लेषण 

आनंद के एक लंबे समय तक सहायक रहे सूर्या नें आनंद के मैच का आज खास विश्लेषण किया 
मैच के बाद आनंद नें चेसबेस इंडिया के साथ बातचीत की 

एक समय थोड़ी मुश्किल नजर आ रही स्थिति को अधिबन ने अच्छे से सम्हाला और मैच  बचा  लिया | Photo: Niklesh Jain

हरिकृष्णा नें अपनी खेल की गहरी समझ का परिचय पिछले ओलंपियाड में भी दिया था और कहना होगा वो ठीक उसी लय में नजर आ रहे है   | Photo: Niklesh Jain

औस्ट्रिया को 3.5-0.5 के अंतर से पराजित करना भारत की मजबूत टीम और उसके अच्छे लय में होने के बारे में बताता है अब अगले मैच में भारत को कनाडा से मुक़ाबला खेलना है । 

महिला वर्ग - भारत नें वेनेजुएयला को 4-0 से धोया 

Initial moments of India versus Venezuela

भारतीय महिला टीम की लगातार दूसरी जीत नें भारत को शीर्ष पर पहुंचा दिया है और जिस अंदाज में भारत नें यह जीत हासिल की उससे एक बात साफ है की टीम पूरी लय में है और पूरी तरह से एकाग्र भी । रूस और उक्रेन टीम को पहले दो राउंड में लगे झटको नें भारतीय टीम को और बाद दावेदार बना दिया है । 

शादी के बाद अपना पहला मैच खेल रही हरिका नें  एक शानदार और संतुलित जीत से अपने अभियान की शुरुआत की   | Photo: Niklesh Jain

पहले राउंड में उतार चढ़ाव वाले प्रदर्शन से  तनिया  नें दूसरे राउंड में बेहद ही शानदार खेल दिखाया  | Photo: Niklesh Jain

कहते है जब आपको विरोधी बोर्ड पर गलत चाले चल रहा हो तब आपको सिर्फ अपने मोहरो की सही स्थान से निकालना होता है आज ईशा नें अपने खेल से कुछ ऐसा ही संतुलन दिखाया और एक अच्छी जीत दर्ज की ।  

Qf4 चाल के साथ ईशा नें अपनी गहरी खेल की समझ से खेल को बेहद आसान बना दिया । क्यूंकी वजीर के खेल से जाते ही काले के कमजोर प्यादो और ईशा के अच्छे सक्रिय मोहरो नें एक आसान जीत तय कर दी । 

एक बढ़िया जीत ईशा के द्वारा | Photo: Niklesh Jain

पद्मिनी नें भी टीम के लिए लगातार दूसरी जीत दर्ज की 

कोच याक़ूब के लिया भारत की जीत के बाद कहना होगा !!! याक़ूब - क्या खूब !!   | Photo: Niklesh Jain
राउंड तीन मे सीधा प्रसारण देखने के लिए जुड़े रहे चेसबेस इंडिया से क्लिक करे 

शतरंज ओलंपियाड के फोटो देखने के लिए हमारा फेसबुक पेज देखे और लाइक करे

Related news:

1) बातुमि ओलंपियाड शुभारंभ -अविस्मरणीय समारोह @ 24/09/2018 by Niklesh Jain (hi)

अविस्मरणीय नजारा ! अद्भुत समारोह और उससे भी बढ़कर 185 देशो के प्रतिनिधियों की यादों मे हमेशा हमेशा के लिए समा गया हर एक नजारा ! वाकई जॉर्जिया नें अपने स्वागत समारोह से हर किसी का मन मोह लिया । दुनिया एक मात्र ऐसा खेल आयोजन जहां एक खेल की 185 देशो की टीमें एक साथ एक जगह ना सिर्फ खेलेने के लिए आती हो बल्कि विश्व भर की विभिन्न संस्कृतियों का आपस मे मिलना और प्रेम और भाईचारे का संदेश प्रसारित करना अपने आप मे एक बेहद पवित्र कार्य है । स्वागत समारोह मे आयोजको नें वाकई शतरंज ओलंपियाड की इतिहास का सबसे बेहतरीन आयोजन करने का अंदाजा सभी को दे दिया है और अब वक्त आ गया है इस दिमागी जंग का । कौन किस पर पड़ेगा भारी कौन करेगा उलटफेर तो किसको पड़ेगी गलती भारी । आपके लिए हर खबर छोटी या बड़ी रोचक या रोमांचक लेकर आएगा चेसबेस इंडिया पढे यह लेख और जुड़े रहे हमसे !


2) ओलंपियाड :पहला राउंड: जीत के साथ शुरुआत ! @ 25/09/2018 by Niklesh Jain (hi)

विश्व शतरंज ओलंपियाड बातुमि का पहला दिन भारत के लिए महिला और पुरुष दोनों वर्गो में जीत लेकर आया । महिला खिलाड़ियों नें न्यूजीलैंड को 4-0 से तो पुरुषो नें एल साल्वाडोर को 3.5-0.5 से पराजित किया । प्रतियोगिता में पहला राउंड कभी आसान नहीं होता और यह सभी के खेलो में नजर भी आया । महिला वर्ग में हम्पी ,ईशा और पदमिनी नें आसान सी जीत दर्ज की तो तनिया मुश्किलों से घिर गयी थी और एक समय लगा की वह मैच हार भी सकती है पर उन्होने संयम के साथ खेलते हुए अच्छी वापसी की और हार के मुह से जीत छीनते हुए  एक आत्मविश्वास बढ़ाने वाली जीत दर्ज की । पुरुष वर्ग में शशिकिरण को छोड़कर सभी खिलाड़ियों नें अच्छी आसान जीत दर्ज की ,इंग्लिश ओपनिंग में शशि नें वैसे तो अच्छा खेल दिखाया और दबाव बनाने की पूरी कोशिश की पर उनके कमजोर राजा के चलते अंत में उन्हे ड्रॉ खेलना पड़ा । खैर जीत तो जीत होती है और भारतीय खेमे में निश्चित तौर पर यह एक अच्छी शुरुआत है ।